नई पोस्ट करें

चंद रुपयों के चक्कर में न बदलें हेल्थ इंश्योरेंस, पॉलिसी पोर्ट करने से पहले जान लें ये नुकसान

2022-10-03 18:49:19 124

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानChhattisgarh News: जलती चिता पर पानी डाल कर बुझाया, पुलिस ने सरपंच समेत 8 लोगों को किया गिरफ्तार******Highlights छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में शव के अंतिम संस्कार को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। एक पक्ष बारिश की वजह से शेड में शवदाह करना चाहता था तो दूसरा पक्ष उसे इसलिए रोक रहा था क्योंकि वह जगह उसके समुदाय के लोगों के शवदाह के लिए थी। पुलिस ने मामले में मृत व्यक्ति के परिजनों की शिकायत पर गांव के सरपंच समेत 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।दरअसल, यह पूरा विवाद एक युवक के अंतिम संस्कार को लेकर था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के बाराद्वार थाना क्षेत्र के बस्ती बाराद्वार गांव में युवक प्रदीप पाटले की मृत्यु के बाद उसके अंतिम संस्कार स्थल को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। घटना के बाद पुलिस ने युवक के परिजनों की शिकायत पर आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया। जिसमें जगदीश उरांव, अमृत उरांव, राजकुमार उरांव, विश्राम उरांव, सहदेव उरांव, सिपाही लाल उरांव, उमाशंकर उरांव और कमलेश उरांव का नाम शामिल हैं।पुलिस के मुताबिक, प्रदीप नाम के युवक ने बुधवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उनके अनुसार पोस्टमार्टम के बाद जब उसके परिजन अंतिम संस्कार के लिए गांव के मुक्तिधाम में पहुंचे तब वहां बारिश हो रही थी, इसी बीच वे शेड के नीचे अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगे। उन्होंने बताया कि प्रदीप के परिजनों के अनुसार जब वे प्रदीप के शव का अंतिम संस्कार कर रहे थे तब गांव के सरपंच और अन्य लोग वहां पहुंच गए और उन्होंने चिता पर पानी डालकर उसे बुझा दिया और शव को वहां से बाहर कर दिया। प्रदीप के परिजनों ने पुलिस को बताया कि ग्रामीणों ने आपत्ति जताई थी कि मुक्तिधाम उनके समाज का है इसलिए वे अन्य को वहां अंतिम संस्कार की अनुमति नहीं देंगे।पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद प्रदीप के परिजन थाने पहुंचे और अंतिम संस्कार का विरोध करने वाले ग्रामीणों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। वहीं कुछ ग्रामीणों ने सड़क भी जाम करने की कोशिश की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शिकायत के बाद पुलिस ने सरपंच समेत आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और शव का अंतिम संस्कार कराया गया। उन्होंने बताया कि मृत प्रदीप अनुसूचित जाति समाज से था और विरोध करने वाले ग्रामीण अनुसूचित जनजाति समाज से हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के दौरान वहां मौजूद किसी ग्रामीण ने घटना का वीडियो बना लिया था, जिसमें कुछ लोगों को चिता को बुझाने का प्रयास करते देखा जा सकता है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानGuru Nanak Dev Death Anniversary 2022: गुरुनानक देव को क्यों कहा जाता सिख समाज के पहले गुरु? जानें वजह******गुरु नानक देव की हर साल 22 सितंबर को पुण्यतिथि मनाई जाती है। बता दें गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev Death)ने 22 सितंबर 1539 को करतारपुर में अपने प्राण का त्याग किया था। इस दिन जगह-जगह पर लंगरों का आयोजन किया जाता है। बाबा नानक का जन्म तलवंडी नामक स्थान पर हुआ था। यह जगह रावी नदी के किनारे बसा हुआ था।आज इस स्थान को ननकाना साहिब के नाम से जाना जाता है। उनका जन्म कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि को हुआ था।बचपन से ही नानक देव जी धार्मिक प्रवृति के बालक थे और आगे चलकर वे सिख समाज के पहले गुरु बनें।गुरु नानक देव समाज में बढ़ रही कुरीतियों को देखकर आहत थे और उनको बदलना चाहते थे। वह एक दार्शनिक थे जिसके कारण उन्होंने यह भांप लिया था कि यह कुरीतियां न केवल समाज को खोखला कर रही हैं बल्कि इससे मनुष्य पतन ओर जा रहा है। इसलिए बाबा नानक ने समाज को नई दिशा दिखाने का कार्य किया।चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानक्या वाकई सिद्धार्थ शुक्ला और शहनाज दिसंबर में शादी करने वाले थे?******सिद्धार्थ शुक्ला के निधन के बाद उनकी सबसे करीबी दोस्त शहनाज कौर गिल बेसुध हैं। सिद्धार्थ के निधन के बाद उनके फैंस इसी बात को लेकर परेशान थे कि आखिर शहनाज की क्या हालत होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि शहनाज सिद्धार्थ को पसंद करती थीं। ये बात ना केवल उन्होंने 'बिग बॉस सीजन 13' के दौरान कही बल्कि हाल ही में जब सिद्धार्थ और शहनाज 'डांस दीवीने शो' पर आए थे तो भी शो की जज माधुरी दीक्षित के सवाल के जवाब में शहजान ने कहा था कि उन्हें सिद्धार्थ शुक्ला बहुत पसंद है।वहीं अब, सिद्धार्थ के निधन के बाद सोशल मीडिया पर सिद्धार्थ और शहनाज की शादी को लेकर कई तरह की बातें वायरल हो रही हैं। कुछ वायरल खबरों में दावा किया जा रहा है कि ये दोनों सितारे इस साल दिसंबर में शादी के बंधन में बंधने वाले थे। हालांकि इस तरह की खबरों की कोई भी पुष्टि नहीं हुई है।सोशल मीडिया पर वायरल कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो सिद्धार्थ शुक्ला और शहनाज कौर गिल इस साल यानी दिसंबर 2021 में सात फेरे लेने वाले थे। वायरल खबरों में दावा तो ये भी किया जा रहा है कि दोनों सितारों के परिवार वालों ने शादी की तैयारियां भी शुरू कर दी थी। यहां तक कि परिवार वाले शादी के फंक्शन के लिए मुंबई में होटल बुकिंग की बात कर रहे थे। शादी के फंक्शन तीन दिन तक चलते जिसे परिवार वाले फिलहाल सीक्रेट रखना चाह रहे थे।इन वायरल खबरों के बीच 'बिग बॉस सीजन 13' के एक्स कंटेस्टेंट अबु मलिक का एक बयान चर्चा में बना हुआ है। अबु मलिक ने ई टाइम्स से बात करते हुए सिद्धार्थ और शहनाज से जुड़ी एक ऐसी बात बताई जिसकी जानकारी अभी तक किसी को नहीं है। अबु मलिक ने इस इंटरव्यू में कहा- 'शहनाज ने मुझसे करीब 22 मार्च 2020 में मुझसे बात की थी। मुझे लगता है कि पहले लॉकडाउन से ठीक एक दिन पहले का दिन था वो। सिद्धार्थ उससे बहुत प्यार करता था। वह कहता था कि अगर एक दिन वो उससे नाराज हो जाती थी तो उसका दिन खराब हो जाता था।'आपको बता दें, सिद्धार्थ शुक्ला का निधन गुरुवार को हार्ट अटैक की वजह से हुआ। इसके एक दिन बाद शुक्रवार को मुंबई के ओशीवारा श्मशान घाट पर अभिनेता का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान शहनाज कौर गिल सिद्धार्थ शुक्ला के निधन के बाद पहली बार स्पॉट हुईं।शहनाज अपने भाई शहबाज के साथ कार में श्मशान घाट पहुंचीं। शहनाज कार में बैठी बुरी तरह से रोती हुई दिखाई दीं। शहजान को ऐसे रोते बिलखते देखकर उनके फैंस का कलेजा जैसे मुंह को आ गया। सिद्धार्थ के जाने की सच्चाई को ना केवल अभिनेता के परिवार वाले, करीबी दोस्त शहनाज और उनके फैंस के लिए भी स्वीकार करना मुश्किल हो रहा है। यहां तक कि हर कोई अपनी तरह से सिद्धार्थ को याद कर भावुक पोस्ट भी कर रहा है।

चंद रुपयों के चक्कर में न बदलें हेल्थ इंश्योरेंस, पॉलिसी पोर्ट करने से पहले जान लें ये नुकसान

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानTwitter Deal: ट्विटर ने एलन मस्क पर ठोका मुकदमा, Musk ने दिया लाजवाब जवाब******सोशल मीडिया मंच ट्विटर ने कहा कि उसने अरबपति उद्योगपति एलन मस्क पर 44 अरब डॉलर में कंपनी का अधिग्रहण पूरा करने का दबाव बनाने की खातिर मुकदमा किया है। मस्क ने फर्जी खातों की सही जानकारी नहीं देने का आरोप लगाते हुए ट्विटर को 44 अरब डॉलर में खरीदने के समझौते को रद्द करने की घोषणा की थी। वहीं, दूसरी ओर ट्विटर ने कहा था कि वह इस सौदे को बरकरार रखने के लिए टेस्ला के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मस्क पर मुकदमा करेगी।ट्विटर की तरफ से केस दर्ज करने की खबर के तुरंत बाद मास्क ने ट्वीट कर लजावाब जवाब दिया। मस्क ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter पर लिखा, ओह विडंबना (Oh the irony lol)। हालांकि, मस्क ने अपने ट्वीट में मुकदमे का उल्लेख नहीं किया था, लेकिन यह साफ पता चला कि उनका इशारा किस तरफ था।ट्विटर के निदेशक मंडल के अध्यक्ष ब्रेट टेलर ने मंगलवार को ट्वीट करके बताया कि एलन मस्क को उनके अनुबंध दायित्वों के लिए जवाबदेह बनाने के लिए डेलावेयर कोर्ट ऑफ चांसरी में मुकदमा दायर किया गया है। इसमें आरोप लगाया गया है कि मस्क ने ट्विटर और उसके शेयरधारकों के प्रति दायित्वों का सम्मान नहीं किया क्योंकि जिस अनुबंध पर उन्होंने हस्ताक्षर किए थे उससे उनके निजी हित अब सध नहीं रहे थे। मस्क ने बीते शुक्रवार को कहा था कि कंपनी ट्विटर के फर्जी खातों की संख्या के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं दे सकी, जिसके चलते उन्होंने यह सौदा रद्द किया है।चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानGermany News: जर्मनी ने लॉन्च की विश्व की पहली हाइड्रोजन ट्रेन, एक बार में 1 हजार किमी तय करेगी का सफर****** जर्मनी में दुनिया की पहली हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन का शुभारंभ हो गया है। जर्मनी के लोअर सैक्सोनी (Lower Saxony) राज्य में पूरी तरह से हाइड्रोजन द्वारा संचालित 14 ट्रेनों का एक बेड़ा सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया। यह ट्रेन पर्यावरण में कार्बन गैस को कम करने में अहम भूमिका निभाएगी। फ्रांसीसी कंपनी एल्सटॉम द्वारा निर्मित 14 ट्रेनों में से पांच बुधवार को ही चलाई गई और अभी आने वाले दिनों में ये 15 डीजल ट्रेनों की जगह ले लेगी, जो इस समय यहां पटरी पर चल रही है।1 किलो हाइड्रोजन लगभग 4.5 किलो डीजल के समानएल्स्टॉम के सीईओ हेनरी पॉपार्ट-लाफार्ज ने एक बयान में कहा कि सिर्फ 1 किलो हाइड्रोजन लगभग 4.5 किलो डीजल के समान है। ये ट्रेन कोई प्रदूषण नहीं छोड़ती है बस थोड़ा नॉइस करती है और भाप और वाष्पित पानी का उत्सर्जन करती है। इस ट्रेन की खासियत यह है कि यह हाइड्रोजन से भरे एक टैंक से करीब 1000 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती है। ट्रेन की अधिकतम रफ्तार 140 किमी/घंटा है।इस समझौते को क्षेत्रीय रेल ऑपरेटर (एलएनवीजी) और एल्स्टॉम के बीच 93 मिलियन यूरो में हस्ताक्षर किया गया था। एल्स्टॉम के सीईओ हेनरी ने कहा, ‘हमें अपने मजबूत भागीदारों के साथ विश्व प्रीमियर के रूप में इस तकनीक को लॉन्च करने में बहुत गर्व महसूस हो रहा है और यह हर साल 4,400 टन CO2 को वायुमंडल में छोड़ने से रोकेगा।कंपनी के अनुसार इस प्रोजेक्ट से टाब्र्स जो कि फ्रांस का शहर है, और मध्य जर्मनी, यहां 80 कर्मचारियों को रोजगार मिला। इस ट्रेन की टेस्टिंग 2018 से की जा रही थी। लेकिन अब यह पूरी तरह से बनकर तैयार है।भारत: 100 साल बाद नगालैंड को मिला दूसरा रेलवे स्टेशनजहां एक ओर जर्मनी में हाईड्रोजन ट्रेन चलना शुरू हो गई है। वहीं दूसरी ओर भारत में भी अब ऐसे स्थानों पर रेलवे स्टेशन बनना शुरू हो गए हैं, जहां स्टेशनों की कमी है। नॉर्थ ईस्ट के स्टेट नगालैंड को तो इस राज्य का दूसरा रेलवे स्टेशन 100 साल से अधिक समय बाद मिला है।सीएम नीफियू रियो ने कराई इस ट्रेन की शुरुआतपहले यह ट्रेन दो राज्यों यानी असम के गुवाहाटी से अरुणाचल प्रदेश के नाहरलागुन तक चलती थी। अब इसे दिमापुर से कुछ किलोमीटर आगे शुखोवी तक बढ़ा दिया गया है। यह नगालैंड के लिए रेलवे की एक बड़ी सौगात है।चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानभारतीय अरबपतियों की संपत्ति में हुआ इतना इजाफा, जिससे 14 करोड़ लोगों में प्रत्‍येक को मिल सकते हैं 94,045 रु.******Wealth amassed by 100 richest Indians during pandemic can give 13.8 cr poorest Rs 94k each कोरोना वायरस महामारी के बीच मार्च, 2020 से लेकर अभी तक भारत के 100 टॉप अरबपतियों की संपत्ति में 12,97,822 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। इस राशि में से 13.8 करोड़ भारतीयों में से प्रत्‍येक को 94,045 रुपये दिए जा सकते हैं। ऑक्‍सफैम रिपोर्ट (Oxfam report) की नवीनतम रिपोर्ट ‘असमानता वायरस’ में कहा गया है कि महामारी के दौरान मुकेश अंबानी ने एक घंटे में जितनी कमाई की है, उतना धन कमाने के लिए एक अकुशल श्रमिक को 10,000 साल लगेंगे। इतना ही मुकेश अंबानी की एक सेकेंड की कमाई के बराबर राशि के लिए उसे तीन साल लगेंगे। रिपोर्ट में कोरोना वायरस महामारी को 100 सालों में दुनिया की सबसे खतरनाक सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य संकट बताया गया है। इसमें कहा गया है कि की संपत्ति में पिछले साल मार्च के बाद से अब‍तक 12,97,822 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। यह संपत्ति इतनी है कि इसे 13.8 करोड़ भारतीयों में से प्रत्‍येक को 94,045 रुपये मिल सकते हैं।कुमार मंगलम बिड़ला, उदय कोटक, गौतम अडानी, अजीम प्रेमजी, सुनील मित्‍तल, शिव नाडर, लक्ष्‍मी मित्‍तल, साइरस पूनावाला और राधाकृष्‍णन दमानी जैसे अरबपति आर्थिक मंदी के बावजूद अधिक अमीर हुए हैं, जबकि इस दौरान अप्रैल, 2020 में प्रत्‍येक घंटे 1.7 लाख लोग अपना रोजगार खो रहे थे।ऑक्‍सफैम के मुताबिक अमीर लोगों की संपत्ति के आंकड़ें फोर्ब्‍स 2020 अरबपति लिस्‍ट से जुटाए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबि‍क लॉकडाउन के दौरान भारतीय अरबपतियों की संपत्ति में 35 प्रतिशत और 2009 से लेकर अबतक 90 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। भारत के टॉप 100 अरबपतियों की कुल संपत्ति 422.9 अरब डॉलर है। इस मामले में अमेरिका, चीन, जर्मनी, रूस और फ्रांस के बाद भारत का छठवां स्‍थान है। ऑक्‍सफैम इंडिया के सीईओ अमिताभ बेहर ने अपने बयान में कहा कि इस रिपोर्ट ने यह खुलासा किया है कि कैसे महामारी ने आर्थिक, जाति, रंग और लिंग भेद को और गहरा किया है। भारत ने कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए लंबा और कठोर लॉकडाउन लगाया जिसकी वजह से अर्थव्‍यवस्‍था पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा। इससे बेरोजगारी, भुखमरी, जबरन पलायन आदि को बढ़ावा मिला। संकट के इस दौर में बहुत से लोगों को अपनी रोजी-रोटी से हाथ धोना पड़ा, जबकि कार्यालयों में काम करने वाले कर्मचारियों ने अपने आप को पृथक कर लिया और निरंतर घरों से काम करते रहे।रिपोर्ट में कहा गया है कि महामारी से भारत में सबसे ज्‍यादा असंगठित क्षेत्र के श्रमिक प्रभावित हुए, जिसमें 12.2 करोड़ में से 75 प्रतिशत ने अपना रोजगार खोया। इसके अलावा 300 से अधिक असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की मौत भूख, आत्‍महत्‍या, निकासी, रोड और रेल दुर्घटना, पुलिस बर्बरता और समय पर चिकित्‍सा देखभाल न मिलने की वजह से हुई।

चंद रुपयों के चक्कर में न बदलें हेल्थ इंश्योरेंस, पॉलिसी पोर्ट करने से पहले जान लें ये नुकसान

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानKia ने दो साल में बेची 2 लाख SUV Seltos,1.5 लाख कनेक्‍टेड वाहनों की भी हुई बिक्री******Kia sells 2 lakh units of flagship SUV Seltos in 2 yearsसाउथ कोरिया की प्रमुख ऑटो कंपनी किया (Kia) ने शुक्रवार को कहा कि उसने भारत में अपने परिचालन के 2 वर्ष के भीतर अपनी फ्लैगशिप एसयूवी सेल्‍टोस (SUV Seltos) की 2 लाख इकाईयों की बिक्री की है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि किया इंडिया ने इस अवधि के दौरान 1.5 लाख कनेक्‍टेड कार की भी बिक्री की है। कंपनी ने बताया कि किया इंडिया की कुल बिक्री में का योगदान 66 प्रतिशत है, जो हाल ही में 3 लाख बिक्री का आंकड़ा भी पार कर चुकी है। कंपनी ने बताया कि सेल्‍टोस की कुल बिक्री में 58 प्रतिशत हिस्‍सा इसके टॉप वेरिएंट्स का है। वाहन के ऑटोमैटिक ऑप्‍शन का योगदान 35 प्रतिशत से अधिक है। इस एसयूवी की कुल बिक्री में 45 प्रतिशत हिस्‍सा डीजल इंजन का है। किया इंडिया के कार्यकारी निदेशक और मुख्‍य बिक्री एवं कारोबार रणनीति अधिकारी ताये-जिन पार्क ने कहा कि सफलता की उपलब्धि हमेशा प्रोत्‍साहन प्रदान करती है और यह ग्राहकों को और बेहतर सेवा देने के हमारे जुनून को बढ़ाता है। एक के बाद एक उपलब्धि ऑटो इंडस्‍ट्री में एक क्रांति लाने की हमारी प्रतिबद्धता और क्‍लास-लीडिंग प्रीमियम प्रोडक्‍ट्स के साथ नए जमाने के दिल से युवा ग्राहकों की जरूरत को पूरा करने का प्रमाण है। उन्‍होंने कहा कि भारतीय यात्री वाहन बाजार बदलते उपभोक्‍ता ट्रेंड, नवीनतम फीचर्स के लिए बढ़ती इच्‍छा और अत्‍याधुनिक कनेक्‍टेड-कार टेक्‍नोलॉजी के कारण बदलाव के दौर से गुजर रहा है।किया इंडिया ने यह भी बताया कि 1.5 लाख कनेक्‍टेड कार की बिक्री की उपलब्धि ब्रांड की टेक्‍नोलॉजिकल एडवांस्‍मेंट और समृद्ध भारतीय बाजार के प्रति उसकी समझ को प्रदर्शित करती है। इस उपलब्धि को हासिल करने में योगदान के मामले में सेल्‍टोस सबसे आगे है, जिसकी हिस्‍सेदारी 78 प्रतिशत से अधिक है। किया की कुल कनेक्‍टेड बिक्री में सोनेट की हिस्‍सेदारी 19 प्रतिशत है।चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानचीन को पीछे कर तेजी से बढ़ रही है भारत की अर्थव्यवस्था, मार्च तिमाही में GDP 7.3 प्रतिशत अनुमानित: Poll******India GDP growth estimated 7.3 percent during March Quarter of FY 2017-18 सरकार की तरफ से आज मार्च तिमाही के लिए (GDP) की ग्रोथ के आंकड़े जारी होने है और ऐसी संभावना जताई जा रही है कि मार्च तिमाही में भी चीन को पछाड़ भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना रहेगा। अंग्रेजी समाचार एजेंसी रॉयटर्स की तरफ से किए गए सर्वे के मुताबिक मार्च तिमाही में भारत की GDP ग्रोथ 7.3 प्रतिशत रह सकती है जो नोटबंदी के बाद सबसे अच्छी तिमाही ग्रोथ होगी। मार्च तिमाही से पहले दिसंबर तिमाही में ग्रोथ 7.2 प्रतिशत थी और वित्तवर्ष 2016-17 की मार्च तिमाही में ग्रोथ 6.1 प्रतिशत दर्ज की गई थी।इस सर्वे से पहले आर्थिक मामलों के सचिव ने भी सोमवार को बयान दिया था कि मार्च तिमाही में भारत की GDP ग्रोथ 7.3-7.5 प्रतिशत के बीच रहने का अनुमान है। भारत की GDP ग्रोथ चीन से आगे रहने का अनुमान लगाया जा रहा है, मार्च तिमाही में ग्रोथ 6.8 प्रतिशत दर्ज की गई है।मार्च तिमाही के दौरान देश में कमर्शियल गतिविधियों को बढ़ावा मिला है, ऑटो बिक्री रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची है साथ में रोजगार में भी सुधार होने की संभावना है। इसके अलावा कृषि, इंफ्रास्ट्रक्चर, माइनिंग और सर्विस सेक्टर में भी ग्रोथ की उम्मीद है जिस वजह से मार्च तिमाही में GDP ग्रोथ अच्छी होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

चंद रुपयों के चक्कर में न बदलें हेल्थ इंश्योरेंस, पॉलिसी पोर्ट करने से पहले जान लें ये नुकसान

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानNigeria के चर्च में भगदड़ मचने से 31 लोगों की मौत, मरने वालों में ज्यादातर बच्चे******Highlightsनाइजीरिया के दक्षिण-पूर्व में स्थित शहर पोर्ट हरकोर्ट में शनिवार को एक चर्च में कार्यक्रम के दौरान भगदड़ मच गई। इस दौरान कम से कम 31 लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल बताए जा रहेहैं। घटना में मरने वाले ज्यादातर बच्चे शामिल हैं। पुलिस और सुरक्षा अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी गई।पुलिस ने बताया कि भोजन वितरण के दौरान भगदड़ मच गई। शनिवार तड़के चर्च में भोजन ग्रहण करने पहुंचे सैकड़ों लोगों ने गेट तोड़ दिया, जिससे भगदड़ के हालात पैदा हो गए। नाइजीरिया के नागरिक सुरक्षा कोर के एक क्षेत्रीय प्रवक्ता ओलुफेमी अयोडेल के मुताबिक, यह घटना एक स्थानीय पोलो क्लब में हुई, जहां पास के किंग्स असेंबली चर्च ने एक उपहार दान अभियान का आयोजन किया था। उन्होंने कहा कि उपहार का सामान बांटने की प्रक्रिया के दौरान भीड़ के चलते भगदड़ मच गई।

चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानTu Banke Hawa Song: धोखा राउंड डी कॉर्नर के 'तू बनके हवा' गाने के साथ पहले प्यार के मैजिक को फिर से करें एंजॉय******धोखा: राउंड डी कॉर्नर का 'तू बनके हवा' निश्चित रूप से आपको आर माधवन और खुशहाली कुमार के बीच की थ्रिलिंग केमेस्ट्री की झलक देता है और पहले प्यार के मैजिक को भी जिंदा कर देगा। जुबिन नौटियाल के वोकल्स, गौरव दासगुप्ता के म्यूजिक और देवशी खंडूरी द्वारा लिखे गए यह फास्ट पेस्ड रोमांटिक ट्रैंक एक ड्रीमी कपल के बीच की सिजलिंग केमिस्ट्री के साथ उनके इनोसेंट और केंडिड पलों को भी खूबसूरती के साथ दर्शाता है।इससे पहले फिल्म के दो और गाने रिलीज हो चुके है। इन गानों को देखने के बाद कह सकते हैं कि फिल्म ने अपने म्यूजिक के जरिए कई अलग अलग तरह के इमोशन्स और एलीमेंट्स को शोकेस किया है क्योंकि जहां फिल्म का पहला गाना 'मेरा दिल गया जा' ने अपने रेट्रो और डिस्को वाईब्स के साथ सभी को नॉस्टैल्जिक कर दिया था, वहीं 'तू बनके हवा' रोमांस को जगाने का वादा करता है। अब फिल्म का एक और गाना भी सामने आ चुका है।इस पर फिल्म की डायरेक्टर कूकी गुलाटी कहते हैं, 'तू बनके हवा' गाना फिल्म की कहानी को आगे ले जाता है। यह दर्शकों को इस कपल के जीवन, उनके द्वारा साझा किए गए केंडिड पलों और उनके बीच के प्यार की एक झलक देता है।'वहीं आर माधवन का कहना हैं, 'तू बनके हवा' गीत में वह सब कुछ दर्शाया गया है जिसकी आप एक कपल से अपने जीवन में एक नया चैप्टर शुरू करने की उम्मीद करते हैं। यह एक बहुत ही दिलचस्प और फ्रेश स्टाइल में बताया गया है और यह प्यार में पड़े एक कपल की रोमांटिक स्टोरी के बारे में है।'खुशाली कुमार कहती हैं, 'मुझे इस गाने की शूटिंग याद है और इसमें बहुत सारे प्यारे पल हैं जहां रेगुलर रूटीन को बेहद खास तकीरे से ट्रीट किया गया है और जब आप इसे प्यार के नजरिए से देखते हैं तो सब कुछ खूबसूरत लगता है और 'तू बनके हवा' में आप यही देखेंगे।' जुबिन नौटियाल का मानना हैं, 'तू बनके हवा एक बहुत ही खूबसूरत और फील गुड रोमांटिक ट्रैक है। इसे रिकॉर्ड करना मेरी लाइफ का एक बहुत अच्छा अनुभव था, जहां मैंने अपने वोकल्स में आत्मा और पावर दोनों को शामिल करने की कोशिश की है। 'जब एक पर्सनालिटी डिसऑर्डर के साथ एक हाउसवाइफ जो भ्रम का शिकार हो जाती है, को खुले तौर पर एक आतंकवादी द्वारा बंधक बना लिया जाता है और एक पति पर अपनी पत्नी को धोखा देने का आरोप लगाया जाता है, तो रिएलिटी के अपने वर्जन्स होते हैं, हम कैसे जानते हैं कि कौन सच कह रहा है? धोखा - राउंड डी कॉर्नर झूठ और कड़वी सच्चाई की कहानी है।भूषण कुमार की टी-सीरीज़ द्वारा निर्मित, खुशाली कुमार, आर माधवन, दर्शन कुमार और अपारशक्ति खुराना स्टारर औऱ कूकी गुलाटी निर्देशित 'धोखा-राउंड डी कॉर्नर' 23 सितंबर, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी।चंदरुपयोंकेचक्करमेंनबदलेंहेल्थइंश्योरेंसपॉलिसीपोर्टकरनेसेपहलेजानलेंयेनुकसानIPL 2022: ग्लेन मैक्सवेल ने बताया, कप्तानी का बोझ हटने से विरोधी टीम के लिए और खतरनाक साबित होंगे कोहली******Highlightsरॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के आक्रामक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल का मानना है कप्तानी के बोझ के बिना विराट कोहली आजकल ‘तनावमुक्त’ नजर आते हैं जो आगामी इंडियन प्रीमियर लीग में विरोधी टीमों के लिए खतरनाक संकेत हैं। पिछले साल के आईपीएल के बाद आरसीबी की कप्तानी छोड़ने वाले कोहली ने राष्ट्रीय टी20 और टेस्ट टीम की कप्तानी भी छोड़ दी जबकि उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया।मैक्सवेल का मानना है कि अब कोहली मैदान पर ही मुंहतोड़ जवाब देने वाले आक्रामक क्रिकेटर नहीं हैं जैसा कि वह होते थे और यह हैरानी भरा है। मैक्सवेल ने आरसीबी के पोडकास्ट पर कहा, ‘‘उसे पता है कि वह कप्तान की जिम्मेदारी छोड़ चुका है जो मुझे लगता है कि संभवत: उसके लिए बड़ा बोझ था। शायद पिछले कुछ समय से उस पर इसका बोझ था और अब वह इससे मुक्त हो चुका है, यह शायद विरोधी टीम के लिए खतरनाक खबर है।’’ऑस्ट्रेलिया के आक्रामक बल्लेबाज मैक्सवेल खुश हैं कि कोहली ऐसे चरण में हैं जहां वह असल में लुत्फ उठाएंगे।उन्होंने कहा, ‘‘थोड़ा राहत महसूस करना उसके लिए शानदार होगा और वह असल में बिना किसी बाहरी दबाव के अपने करियर के अगले कुछ वर्षों का लुत्फ उठा पाएगा। मुझे लगता है कि इससे पहले उसके खिलाफ खेलते हुए वह बेहद आक्रामक प्रतिस्पर्धी था जो मैदान पर ही आपको जवाब देता था। वह हमेशा खेल पर दबदबा बनाने की कोशिश करता था। विरोधी पर हावी होने की कोशिश करता था। ’’मैक्सवेल ने कहा